15 49.0138 8.38624 1 1 4000 1 http://www.amulyavachan.com 300
Tag / Torch

Be your own Torch…

भगवान् बुद्ध मृत्युशैय्या पर अपनी अंतिम साँसे गईं रहे थे की तभी उन्होंने किसी के रोने की आवाज सुनी। उन्होंने अपने पास बैठे शिष्य आनंद से पूछा,”आनंद ये कौन रो रहा है ?” आनंद गुरुचरणों में प्रार्थना करते हुए बोले,”हे भगवन ! भद्रक आपके अंतिम दर्शन की इच्छा ले कर आया है।” भगवान् बुद्ध स्नेह...CONTINUE READING
Share:

Always try to be a lamp in someone’s life…

जल रहे हैं दीप देखो बुझने न पाएं कभी, दीप हौं जिन हाथों में वो झुकने न पाएं कभी।   जल रहे हैं दीप देखो बुझने न पाएं कभी।   हो अँधेरा कर दो रोशन, कर दो अपने नूर से, भूला भटका हो कोई तो वो भी देखे दूर से ; पाँव में ठोकर किसी...CONTINUE READING
Share: