15 49.0138 8.38624 1 1 4000 1 http://www.amulyavachan.com 300
Category / Lord Buddha

संसाधनों का उपयोग…

भगवान् बुद्ध के  एक शिष्य  ने कहा , ” प्रभु ! मुझे आपसे एक निवेदन करना है .” बुद्ध: बताओ क्या कहना है ? शिष्य : मेरे वस्त्र पुराने हो चुके हैं . अब ये पहनने लायक नहीं रहे . कृपया मुझे नए वस्त्र दें  ! बुद्ध ने अनुयायी के वस्त्र देखे , वे सचमुच...CONTINUE READING
Share:

Be your own Torch…

भगवान् बुद्ध मृत्युशैय्या पर अपनी अंतिम साँसे गईं रहे थे की तभी उन्होंने किसी के रोने की आवाज सुनी। उन्होंने अपने पास बैठे शिष्य आनंद से पूछा,”आनंद ये कौन रो रहा है ?” आनंद गुरुचरणों में प्रार्थना करते हुए बोले,”हे भगवन ! भद्रक आपके अंतिम दर्शन की इच्छा ले कर आया है।” भगवान् बुद्ध स्नेह...CONTINUE READING
Share:

Donot creat difference in your words and deeds…

“आप चाहे कितने भी पवित्र शब्दों  को पढ़ लें या बोल लें, लेकिन जब तक उन पर अमल नहीं करेंगे तब तक उनका कोई फायदा नहीं होता।” -गौतम बुद्ध-
Share:
Category:Be you, Lord Buddha